Last Updated: Monday, 24 April 2017

Blog Par Hindi Me Post Likhne Ke Basic Rule

Hello दोस्तो हिंदी बहुत ही बोले औऱ लिखी व समझी जाने बाली भाषा है। हिंदी सिर्फ हिंदुस्तान में ही नही बल्कि बाहर के देशो में भी बोली जाती है। जो हिंदी प्रेमी है बो अक्सर कुछ भी हो वो हिंदी में ही पड़ना पस्सन्द करते है।अगर हम एक ब्लॉगर है ओर इंडिया से है या ओर कोई देश है। हम ने ब्लॉग भी बनाई है और उस पर कुछ पोस्ट भी लिखे होंगे और ये पोस्ट अपने अपनी समझने बाली भाषा मे लिखी होगी। अगर आप हिंगलिश में लिख रहे है तो मेरी मानो की आप हिंदी में कंटेंट लिखना चालू कर दी क्योकि आने बाले समय हिन्दी का ही रोल रहेगा। में इसलिए नही कह रहा हु की मेने हिंदी में पोस्ट लिखने चालू कर दिया है। में इसलिए कह रहा हु की जब मैने hingligh में ब्लॉगिंग स्टार्ट की थी तो मुझे इतना अच्छा ट्रेफिक नही मिला लेकिन मेने जब 2 से 3 ही पोस्ट हिंदी में लिखे तो मुझे अच्छा ट्रेफिक मिलने लगा।
ब्लॉग-में-हिंदी-पोस्ट-कैसे-लिखे.jpeg
हिंदी को पढ़ना बहुत सरल है लेकिन लिखना कठिन है।हिंगलिश को पड़ना थोड़ा कठिन है लेकिन लिखना सरल है। हिंदी पड़ने में इसलिए सरल है क्योंकि जब हिंदी लिखते है तब एक एक वोर्ड एक दूसरे इतने अच्छे मिलते है कि गलत होने का सवाल ही नही इसलिए उसे साफ साफ पड़ सकते है। हिंदी लिखना इसलिए कठिन है की उसमे बहुत मात्रा catting word जैसे वर्ड होते है जिनके वर्ड बनाना बहुत मुश्किल हो जाता है।
हिंगलिश इसलिए पड़ने में कठिन है क्योंकि हिंगलिस कोई प्रोफेशनल language नही है इसके कोई रूल नही है । जिसको जैसा आता है बो वेशा लिखता जाता है जिससे वर्ड में मिसिंग होने क़े चान्स होते है। हिंगलिश इसलिए लिखने में सरल लगती है कि जिसको जैसी translating अति है वो वेशा लिखता जाता है। अगर आप ब्लॉगिंग को हिंदी में स्टार्ट करना चाहते है या कर रहे है । इसलिए हम हिंदी में ब्लॉगिंग करने के फायदे ओर नुक्सान । ओर हिंदी में लिखने के बेसिक रूल ।

Blog Par Hindi Me Post Likhne Ke Basic Rule

अगर आप अपनी ब्लॉग पाए हिंदी में content लिखना चाहते है या लिख रहे है तो आपको इसके रूल को follow करने पड़ेंगे। अगर आप हिंदी में कंटेंट लिख रहे है तो seo पर भी थोड़ा efect पड़ेगा। क्योंकि हिंदी कंटेंट को गूगल में कुछ अलग ही search किया जाता है। क्योंकि गूगल या other search engine में user हमेशा हिंगलिश में कीवर्ड सर्च करते है और रीड करना हिन्दी मे पस्सन्द करते है । इसलिए हमें इसके लिए भी सोचना है। हमे ऐसी हिंदी में कंटेंट लिखना है जिसे यूजर भी like करे और हमे organic treffic मिले । अगर आप हिंदी में कंटेंट में seo का धयान रखे तो सब कुछ better है। तो दोस्तो नीचे के स्टेप फॉलो करें और जाने की हिंदी कंटेंट को seo friendly कैसे बनाये।

Blog में हिंदी में content लिखने के फायदे और rule

ब्लॉग पर हिंदी में कंटेंट लिखने फायदे तो बहुत है। और सबसे ज्यादा फायेदा हमे ट्रेफिक improve में है। क्योंकि बहुत सारे रीडर्स कंटेंट को हिंदी में पड़ना पसंद करते है। और हिंदी की राइटिंग skill की बात करे तो हिंदी hinglish, ओर english से भी अच्छी राइटिंग भी improve होती है। अगर हमें इंग्लिश या हिंगलिश में कंटेंट लिखते है तो हमारे कंटेंट में सभी फॉन्ट अच्छे नही लगते है कुछ फॉन्ट हमारे कंटेंट को मैच नही करते है। लेकिन हिंदी में मेरा मानना है कि हिंदी कंटेंट में सभी फॉन्ट मेच हो जाते है।
तो दोस्तो हम बात कर रहे है हिंदी कंटेंट की तो आप अच्छे से हिंदी कंटेंट लिखने की तो नीचे बताये हुए बातो से समझे।
Hinglish Me Post Title Likhe
Hinglish में पोस्ट टाइटल किखने से हमे बहुत फायदा है। चाहे हम पूरा कंटेंट हिंदी में लिखे लेकिन पोस्ट टाइटल को हिंगलिश में जरूर लिखे क्योकि की search इंजन यूजर सबसे ज्यादा ही हिंगलिश में ही सर्च करते है। इसलिए आप अपने ब्लॉग पोस्ट के टाइटल को hinghlish में लिखें ।
English + हिंदी में Post Heading लिखे।
Seo क़े हीसाब से पोस्ट कंटेंट के हीसाब से उसमे हैडिंग use होनी चाहिए। अगर आप पोस्ट को seo के स्टेप फॉलो करके लिखते होंगे तो आप उनमे हाई क्वालिटी कंटेंट कीवर्ड्स भी use करते होंगे। तो हर कीवर्ड्स इंग्लिश में होता है तो आप अपने अनुसार पोस्ट में इंग्लिश कीवर्ड्स को भी उसे कर सकते है।
Use English Keyword in पैराग्राफ ।
अगर आप पोस्ट में हाई केवर्डस use कर रहे है तो आप अपने पैराग्राफ में इंग्लिश keywords उसे कर सकते हौ। अगर आपके रीडर्स आउट ऑफ कंट्री के है तो अंगे भी ये लाभ दायक हिगे जिन्हें हिंदी ठीक से समझ मे नही आती है।
Post permalink में हिंदी केवर्डस उसे न करे
आप सोच रहे होंगे कि पोस्ट permalink में हिंदी केवर्डस क्यो उसे न करे तो में बता दूं कि permalink हिंदी कीवर्ड ठीक से सपोर्ट नही करता है और ऐसे कई browser है जो हिंदी url सपोर्ट नही करते है। इसलिए आप अपने पोस्ट permalink में इंग्लिश या हिंदी कीवर्ड उसे करे।
Conclusion /
तो दोस्तो यही आज का पोस्ट था जिससे आप अपने ब्लॉग पर सही से हिंदी कंटेंट लिख सकते है। अगर पोस्ट पस्सन्द आया होतो लाइक शेयर ओर comment करना न भूले।

Last Updated: Sunday, 23 April 2017

Success Hindi Quotes - Life Ko Success Banane Ke Liye

Hindi-quotes-success-tips.jpeg
Hello friends success कोन नही बनना चाहता है । हर कोई चाहता है कि वो अपनी अनमोल जिंदगी में कुछ करे। अपने पैरों पर खड़े हो सके। success बनने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी।कोई success ऐसे ही नही बनता है। सक्सेस बनने के लिए हमे अपने टैलेंट , जुनून को पहचान पड़ता है। हमारे इस world में कई महान पुरुष अपना नाम रोसन कर चुके है। ऐसे ही महान पुरुष जब अपना नाम रोसन करके गए तो बो छोड़ गए है अपने अनमोल विचार जो उन्होंने जिंदगी में सीखा ओर किये। आज  हम उन्ही के अनमोल विचारो के बारे में पड़ेगे। तो दोस्तो अगर पस्सन्द आये तो लाइक शेयर कमेंट जरूर करे।

Last Updated: Saturday, 22 April 2017

शेर और कंगन जंगल की कहानी।

The-lion-ki-kahani-hindi-story.jpeg
Hello friends आज हम आपके लिए बहूत ही रोमांचक स्टोरी लाए है।असा करता हूं कि पस्सन्द आएगी तो रीड करते रहे।

शेर और कंगन जंगल की कहानी।

एक जंगल में एक बूढ़ा शेर रहता था, शेर इतना अधिक बूढ़ा हो चुका था कि उसमें शिकार करने की भी ताकत नहीं रही थी, एक दिन बूढ़ा शेर जंगल में शिकार की तलाश में घूम रहा था, तो उसे कोई चमकती हुई चीज दिखाई दी, शेर ने उसे उठाकर देखा तो यह एक सोने की चूड़ी थी, शेर ने सोचा इसे किसी आदमी को दिखा कर लालच में फसाया जा सकता है, इस से आदमी का स्वादिष्ट मीट भी खाने को मिल सकता है, यह सोच कर शेर जंगल के बिच में नदी के किनारे रास्ते में एक पेड़ के नीचे बैठ कर किसी यात्री का इंतजार करने लगा, कुछ ही देर में एक आदमी उस रास्ते से गुजर रहा था तो शेर ने आवाज दे कर कहा अरे भाई यह सोने की चूड़ी लेलो मेरी यह किसी कम की नहीं है, तुम्हारे कोई काम आ जाएगी, राही ने लेने से इंकार कर दिया तो शेर ने कहा ठीक है अगर तुम नहीं लेना चाहते हो तो में किसी और को दे देता हूँ, यह कह कर शेर वहां से जाने लगा तो यात्री ने सोचा अगर शेर ने मुझे खाना ही होता तो वह मुझे वैसे ही मार कर खा सकता था, यात्री ने शेर से कहा में यह चूड़ी लेने को तयार हूँ, शेर ख़ुशी से मुड़ा और चूड़ी जमीं पर रखते हुए बोला ठीक है ये ले जाओ, यात्री लालच में पड़ कर चूड़ी लेने आगे बढ़ा, जैसे ही यात्री ने चूड़ी उठाने को हाथ आगे बढाया शेर ने छलांग मार कर यात्री को दबोच लिया और मार कर खा गया, इस तरह यात्री का अंत हो गया, इस लिए कहते हैं कि लालच बुरी बला है

Thanks for reading: plz share this

Laptop (computer) Ki Speed Kaise Badaye

Hello दोस्तो आज हम बात कर रहे कि Laptop की speed कैसे बढ़ाएं। अगर आप कंप्यूटर use करते है तो आपके लिए ये पोस्ट बहुत useful होगा। अगर हमारे पास कप्यूटर है तो हम उस मे बहुत सारे काम करते होंगे। हम उसमे इंटरनेट ब्राउज़िंग भी करते होंगे। अगर आप ऐसे काम करते है तो आपको अपने पीसी की सेफ्टी करनी होगी । क्योंकि जब हम internet जैसे कामो में अपने पीसी को use करते हैं ओर inrernet से कुछ भी download करते है तो कुछ virus हमारे पीसी में आ जाते है जिससे हमारा computing सिस्टम खराब होने लगता है । ये हमारे हमारे सिस्टम के लिए बहुत ही डेंजरस होते है। ये वायरस कोई कोई नही होते है। ये virus हवा के जैसे होते हैं। ये किसी को दिखायी नही देते है। कुछ virus develop किये जाते है औऱ कोई आपकी फ़ाइल ही कभी कभी वायरस बन जाती है। आप सोच रहे होंगे कि वायरस से हमारे computer पर क्या इफेक्ट पड़ता है। वायरस से हमारे कंप्यूटर की स्पीड slow होती है। और हमारा सिस्टम स्लो होने के साथ साथ हैंग भी होने लगता है।
Laptop-ki-speed-kaise-badaye.jpeg
अगर आप सपने लैपटॉप कंप्यूटर की स्पीड को improve करना चाहते है तो अपको कुछ सॉफ्टवेयर आप के कंप्यूटर में इंसटाल करना होगा और कुछ स्टेप भी फॉलिव करने होंगे। स्टेप फॉलो करना बहुत ही इजी है। आपको बस नीचे के स्टेप फॉलो करना है।
इसके लिए नीचे का पोस्ट रीड करे।

Laptop (computer) Ki Speed Kaise Badaye.

1. Install an Antivirus in your Laptop
अगर आप अपने सिस्टम को वायरस से बचाना चाहते है तो आपको अपने पीसी में एक antyvirus जरूर इनस्टॉल करना होगा। इससे आपके कंप्यूटर की 100% सेफ्टी होती है। आपके सिस्टम को वायरस से छुटकारा मिलेगा। में अपको ऊपर भी बता चुका हूं वायरस कितनी खतरनाक चीज है सिस्टम के लिए। आप अगर डेक्सटॉप पीसी में ज्यादा इंटरनेट use करते है तो आपको antyvirus को use करना चाहिये । हमारे internet पर बहुत सारे फ़्री ओर पेड antyvirus मिल जायेंगे में इसके लिए ऑलरेडी पोस्ट कर चुका हु आपको इस पोस्ट में बहुत सारे antyvirus मिल जायेंगे।

2.Uninstall software without work
जो सॉफ्टवेयर आपके काम के  नही है उन सॉफ्टवेयर को आप अपने सिस्टम से unistall कर दे । जिस सॉफ्टवेयर से आपका कोई मतलब नहीं है उन सॉफ्टवेयर को पीसी में रखने का क्या फायदा । आप अगर फालतू के सॉफ्टवेयर सिस्टम में रखते है तो इससे आपकी रेम भरेगी जिससे आपका सिस्टम हैंग हो सकता है।
3. Use Pc Booster
अगर आप सिस्टम की हाई स्पीड चाहते है तो आपको उसे cleen रखना होगा । उसके लिए pc booster बहुत ही उपयोगी है । आप अपने पीसी को cleen रखने के लिए pc booster free service है। आपको इस software को इंस्टाल करना है। आप नीचे दी हुए link पर click करके download कर ले।
4. Laptop/computer को डायरेक्ट बंद न करे
कई बार क्या होता है कि हम जल्द बाजी में अपने सिस्टम को डायरेक्ट बंद कर देते है जो बिल्कुल भी हमारे लिए सेफ नही है । जब हम अपने कंप्यूटर को बंद करे तो विण्डो में जकर बंद करे । और बंद करने से पहले आपने जो भी वर्क किया उसे सेव या डिलेट करके के बंद करे।
5. Use Internet Security Software
अगर हम अपने पीसी में internet use करते है तो हमे इंटरनेट security software  को उसे करना होगा। इससे हमरे सिस्टम में वायरस नही आएंगे जिससे हमारे लैपटॉप की स्पीड इम्प्रूव होती है।
Conclusion.
तो दोस्तो आप सभी को इन सॉफ्टवेयर ओर ट्रिक को जरूर use करना चाहिए। अपने laptop / computer की स्पीड बढ़ाने के लिए। तो दोस्तो हमे नीचे comment करके जरूर बताएं कि अपको हमारा पोस्ट कैसा लगा । ऐसे ही मेरी टोटल हिंदी साइट www.helpertut. com को visit करते रहे अपकक ऐसी ही जानकारी total हिन्दी में मिलेगी । जय हिंद।

follow on social

Select Language

Blog Archive

Follow by Email